जिंदगी की रफ्तार में पीछे नहीं छूटेंगे सपने, ये 7 टिप्स करेंगे आपकी मदद

0
Listen to this article
सपनों के सहारे ही तो जिंदगी आगे बढ़ती रहती है। लेकिन जिंदगी की रफ्तार एक समय में इन सपनों को पीछे छोड़ देती है।

फिर ये सपने सिर्फ सपने ही रह जाते हैं और पीछे रह जाता है खुद को साबित करने का मकसद भी। इसलिए जरूरी है कि इन सपनों को भूला न जाए। जिंदगी की दौड़ में इन्हें पीछे न छोड़ा जाए।

सपने आपके साथ कदम से कदम मिलाएं, इसके लिए जरूरी है इनको याद रखने की हर संभव कोशिश की जाए। मगर ये होगा कैसे?

ये होगा ऐसे कि आपको कुछ टिप्स आजमाने होंगे, ये आपको आपके सपनों का हाथ छोड़ने ही नहीं देंगे। जब सपने हमेशा आंखों में तैरेंगे तो पार भी लगेंगे।

ऐसे ही सपनों को पूरा करने वाले टिप्स पर नजर डालिए और जिंदगी के सपनों को असल बनाइए।

 Table of Contents

  1. सपनों के टुकड़े (pieces of dreams)
  2. लिखने से बढ़ेंगे मंजिल की ओर (write your goal)
  3. सपनों की सफलता कैसी होगी? (your success will look like)
  4. परेशानी क्या है? (What is the problem)
  5. मन भटकता है क्या? (Distractions is a problem)
  6. बहाने कौन-कौन से (What are the excuses?)
  7. मानिए आप कर सकते हैं (You can do it)

 

सपनों के टुकड़े (pieces of dreams)

यहां सपनों को तोड़ने की बात बिल्कुल नहीं कर रहे बल्कि यहां पर सपनों को एक न मानकर इसको कुछ हिस्सों में बांट लेने और फिर पूरे करने की बात कही गई है

आपको करना ये है कि सपनों के हिस्सों को पूरे करते चलना है। जैसे आपने फोटोग्राफर बनने का सपना देखा है तो इसके लिए आपके पास कैमरा होना पहली जरूरत है। फिर अच्छी ट्रेनिंग भी चाहिए और फोटोग्राफी के किस फील्ड में आप काम करना चाहते हैं, ये भी निर्णय कीजिए।

ये हिस्सों में किया गया काम आपको अचानक से तनाव नहीं देता है। बल्कि एक-एक काम पूरा होने के साथ ये आपको रिलेक्स और आत्मविश्वास देता चलता है।

लिखने से बढ़ेंगे मंजिल की ओर (write your goal)

सपनों को लेकर फोकस रहने के लिए जरूरी है कि इनको कहीं न कहीं लिखा जरूर जाए। इसका फायदा यह होगा कि आप अपने सपनों को समय-समय पर ट्रैक (track) कर पाएंगे।

लिखते समय ये जरूर ध्यान रखें कि आपके सपनों के पीछे मकसद क्या है? आप ऐसा क्यों करना चाहते हैं? जैसे सवालों के जवाब भी लिखते रहें। इस तरह से सपना ही नहीं सपने का कारण भी आपके सामने होगा। जो आपको मोटिवेट करता रहेगा। 

सपनों की सफलता कैसी होगी? (your success will look like)

सपनों के पूरा होने के लिए जरूरी है कि आप इनके पूरा होने के मौके की कल्पना भी करें। कल्पना करने की ये आदत एक न एक दिन आपको असल में इस मौके को महसूस करने का मौका भी जरूर देगी।

दरअसल इनकी कल्पना करने से ही आपको बहुत रोमांच महसूस होगा वो आपको सपनों के लिए आगे बढ़ते रहने के लिए मॉटिवेट करता रहेगा। आप एक इस रोमांच को महसूस करने के लिए सपनों को पूरा करेंगे ही।

परेशानी क्या है? (What is the problem)

सपनों को पूरा करने के लिए जरूरी ये भी है कि इनको पूरा करने में आने वाली परेशानियों को पहचान लिया जाए। सपनों के आड़े आने वाली दिक्कतें ही आपके लिए असल बाधा होती हैं।

जब दिक्कतें पहचान लेंगे तो फिर इनको कम करने या पूरी तरह से हटाने का काम भी किया जा सकेगा। इस तरह से आपके सपनों को पूरा करने का रास्ता और साफ हो सकेगा।

इसलिए आगे की सोचते हुए सपनों के आगे आने वाली परेशानियों को पहचान लीजिए और उनको खत्म करने में जुट जाइए। 

मन भटकता है क्या? (Distractions is a problem)

अगर आपका मन भटकता है और ये आपको सपनों से दूर करता है तो सबसे पहले मन भटकने के कारणों को जिंदगी से बाय कर दीजिए।

मन भटकाने वाले कारणों में सबसे पहले नाम आता है सोशल मीडिया का। सोशल मीडिया पर अक्सर लोग घंटों बिता देते हैं। जबकि इस समय कई जरूरी काम किए जा सकते हैं। जैसे आप अपने सपनों के लिए मेहनत कर सकते हैं।

या ऐसे दोस्तों का साथ भी आपका मन भटकाने वाला हो सकता है, जो सिर्फ मौज-मस्ती के लिए साथ होते हैं। या जो कभी मोटिवेट करने की सोचते भी नहीं हैं।

बहाने कौन-कौन से (What are the excuses?)

अपने सपनों को पूरा न करने के पीछे कई बार लोगों के पास कई बहाने होते हैं। जैसे मेरे पास इन चीजों के लिए पैसे नहीं हैं। या मुझे तो ये काम करने में डर लगता है।

इन बहानों को भी आपको अपनी जिंदगी से बाहर निकाल देना होगा। ये बहाने भी आपकी जिंदगी में सपनों की ट्रेन आगे नहीं बढ़ने देते हैं।

इसलिए या तो सपने देखने से पहले सच्चाइयों को स्वीकार कर लें या सपने देखने के बाद बहानों की ओर मुड़कर भी न देखें।

मानिए आप कर सकते हैं (You can do it)

बहुत से लोग सपनों को इसलिए भी पूरा नहीं कर पाते क्योंकि वो कभी मानते ही नहीं कि वो ये कर सकते हैं।

इसलिए सबसे पहले तो आपको मानना होगा कि आपके सपने पूरे होंगे। और आप इन्हें पूरा कर सकते हैं। याद रखिए ये बात दिल में बैठाए बिना आप आगे का सफर पूरा नहीं कर पाएंगे। 

Post a Comment

0Comments
Post a Comment (0)