लाइफ में आगे बढ़ने के लिए, अच्छा इंसान कैसे बनें?

दूसरों के लिए अच्छा और सहृदय होना पॉजिटिविटी फैलाने का एक महत्वपूर्ण तरीका है।

पॉजिटिव होने से न केवल दूसरों को फायदा होता है बल्कि ये आपके अपने लिए भी फायदेमंद साबित हो सकता है। रिसर्च से पता चलता है, कि इस प्रकार का सकारात्मक व्यवहार आपके स्वयं की मेंटल वेलनेस को भी बढ़ा सकता है।

वैसे भी, इस दुनिया में लगभग हर कोई एक अच्छे इंसान की संगति में रहना पसंद करता है। अच्छे लोग आस-पास रहने से खुशी मिलती है, वे दूसरों को प्रेरित करते हैं और उन लोगों को अपने बारे में अच्छा महसूस कराते हैं जिनके साथ वे हैं।

जो लोग अच्छे होते हैं वे भी बड़े प्रभावशाली होते हैं और उनके सच्चे दोस्तों का एक बड़ा पूल होता है। वे ईमानदारी से दूसरों की परवाह करते हैं, और उनके विचार, कार्य और शब्द इसे दर्शाते हैं। जैसा कि कहा जाता है, महत्वपूर्ण होना अच्छा है, लेकिन अच्छा होना अधिक महत्वपूर्ण है।

मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखें तो कई ऐसे तरीके से जिनका पता ये लगाने के लिए किया जा सकता है, कि क्या आप अच्छे इंसान हैं? या फिर ऐसे तरीकों के बारे में भी सीखा जा सकता है, जो आपको अच्छा इंसान बनने में मदद कर सकते हैं। 

इसलिए, इस आर्टिकल में हम आपको 7 ऐसे गुणों के बारे में बताएंगे जो न सिर्फ आपको अच्छा इंसान बनने में और आगे बढ़ने में मदद करेंगे। इन गुणों को अपनाकर आप भी न सिर्फ जिंदगी में बल्कि मेंटल वेलनेस में भी बेहतर स्थिति हासिल कर सकते हैं।

Table of Contents

  1. अच्छे इंसान की परिभाषा क्या है? (What Is The Definition Of A Good Person?)
  2. अच्छे इंसान के लक्षण क्या हैं? (What Are The Signs Of A Good Person?)
  3. अच्छा इंसान होने के फायदे (The Benefits of Being A Nice Person)
  4. आकर्षण में बढ़ोतरी होती है (Increased Attractiveness)
  5. मूड बेहतर रहता है (Better Mood)
  6. तनाव कम हो जाता है (Decreased Stress)
  7. दयालुता बढ़ती है (Increased Kindness)

अच्छे इंसान की परिभाषा क्या है? (What Is The Definition Of A Good Person?)

अच्छा होने का क्या मतलब है? आपको कैसे पता चलेगा कि आप एक अच्छे इंसान हैं? कुछ विशेषताएं जिन्हें अक्सर अच्छाई की परिभाषाओं में शामिल किया जाता है, उनमें शामिल हैं:

  • दूसरों की भलाई करने की सोच
  • सहानुभूति रखना
  • निष्पक्ष होना
  • उदारता रखना
  • दूसरों की मदद करना
  • ईमानदारी
  • दयालु होना
  • नम्रता होना
  • जिम्मेदारी को समझना
  • अलर्ट रहना

'अच्छाई' की सटीक परिभाषा एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न हो सकती है। पर्सनैलिटी साइकोलॉजी या व्यक्तित्व मनोविज्ञान के विद्वानों का मानना है कि इस गुण से जुड़े व्यक्तित्व के लक्षण बाकी लोगों से कुछ अलग हैं।

मनोवैज्ञानिक अक्सर व्यक्तित्व या पर्सनैलिटी का वर्णन पांच व्यापक आयामों के रूप में करते हैं। इन आयामों में से एक को दूसरों से सहमति रखने के रूप में जाना जाता है।

 इसमें कई लक्षण शामिल हैं जो इस बात से संबंधित हैं कि आप दूसरों के साथ कैसा व्यवहार करते हैं। उदाहरण के लिए, दया से जुड़ी कई खूबियां, दया और सहानुभूति सहित, सहमत होने के ही पहलू हैं।

रिसर्च से यह भी पता चलता है कि सहमति को दो मुख्य घटक या कॉम्पोनेन्ट में विभाजित किया जा सकता है,

करुणा
नम्रता
ये दोनों लक्षण एक भूमिका निभाते हैं जिससे हम अक्सर किसी इंसान के बारे में "अच्छा होने" के रूप में सोचते हैं।

करुणा एक ऐसा गुण है जिसमें दूसरों की भावनात्मक स्थिति को समझना, सहानुभूति देना और मदद की भावना को महसूस करना शामिल है। विनम्रता में ऐसे व्यवहार शामिल होते हैं जो दूसरों का सम्मान करते हैं और अक्सर निष्पक्ष रहने की इच्छा से प्रेरित होते हैं।

अच्छे इंसान के लक्षण क्या हैं? (What Are The Signs Of A Good Person?)

  • आप दूसरों के प्रति दया की भावना रखते हैं।
  • लोग आपकी कंपनी का आनंद लेने लगते हैं।
  • आप लोगों को सच्ची तारीफ देते हैं।
  • आप दूसरों के लिए करुणा और सहानुभूति महसूस करते हैं।
  • आप अन्य लोगों को सपोर्ट करते हैं।
  • आप अपने प्रति दयालु हैं।
  • आप अपनी गलतियों की जिम्मेदारी लेते हैं।
  • आप ईमानदार हैं और आत्मसम्मान से भरपूर हैं।
  • आप सुनते हैं कि दूसरे लोग क्या कहना चाहते हैं। 

अच्छा इंसान होने के फायदे (The Benefits of Being A Nice Person)

सामाजिक व्यवहार वह शब्द है, जिसका उपयोग मनोवैज्ञानिक दूसरों की भलाई, सुरक्षा और अच्छी भावनाओं से जुड़े कामों के बारे में बताने के लिए करते हैं। 

दूसरे शब्दों में, कई "अच्छे" व्यवहार जैसे कि अपनी चीजों को दूसरों से शेयर करना, सहयोग करना और उन्हें आराम देना ये सभी सामाजिक काम हैं जो अन्य लोगों की वेलनेस को बढ़ावा देते हैं।

इस तरह के व्यवहार से  स्पष्ट रूप से उन लोगों को फायदा पहुंचता है, जिनकी हम मदद करते हैं । इससे हम कहीं अधिक सामाजिक जुड़ाव को बढ़ावा देते हैं। हालांकि, रिसर्च ये भी बताती है कि अन्य लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करने से आपके स्वयं की मेंटल हेल्थ को भी फायदा पहुंचता है।

1. आकर्षण में बढ़ोतरी होती है (Increased Attractiveness)

अच्छा इंसान बनना आपको एक पार्टनर के रूप में और ज्यादा आकर्षक बना सकता है। जर्नल ऑफ पर्सनैलिटी में प्रकाशित 2019 के एक अध्ययन में, प्रतिभागियों ने जीवन साथी में दयालुता को सबसे महत्वपूर्ण विशेषता के रूप में दर्जा दिया। 

इसका मतलब है कि लोगों ने महसूस किया कि यह फाइनेंशियल संभावनाओं, शारीरिक बनावट, आकर्षण और हंसमुख होने जैसी भावनाओं से भी अधिक महत्वपूर्ण था।

2. मूड बेहतर रहता है (Better Mood)

अच्छा होना 'अच्छा' लगता है। रिसर्च बताती है कि दयालु और दूसरों की मदद करने वाले कामों में शामिल होना आपके मूड को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने पाया कि सात दिनों तक हर दिन दयालुता की एक्टिविटीज में शामिल होने से खुशी और वेलनेस की भावना में इजाफा दर्ज किया गया।

अध्ययन में यह भी पाया गया, कि लोगों ने जितने अधिक भलाई वाले काम किए, वे उतनी ही खुशी महसूस करने लगे। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि दया के इन कामों की प्रेरणा दोस्तों, अजनबियों, या यहां तक ​​कि खुद से मिली थी, इन सभी का समान रूप से सकारात्मक प्रभाव मेंटल हेल्थ और मन पर पड़ा।

3. तनाव कम हो जाता है (Decreased Stress)

तनाव से राहत पाने में अच्छाई भी भूमिका निभा सकती है। स्टडीज से ये भी पता चलता है, कि अच्छा होने से लोगों में तनाव के बुरे असर से अधिक प्रभावी ढंग से निपटने में मदद मिल सकती है। 

उदाहरण के लिए, एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने पाया कि भलाई के काम करने वाले लोगों ने कम तनाव और नकारात्मकता महसूस करने की बात स्वीकार की।

4. दयालुता बढ़ती है (Increased Kindness)

शोध से यह भी पता चला है, कि दयालुता या दूसरों के प्रति दया रखने का भाव भी संक्रामक हो सकता है। एक अध्ययन में पाया गया, कि दूसरों की मदद करने वाले व्यवहार से आपके आसपास के लोगों पर भी इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। उनकी वेलनेस में भी इसका प्रभाव स्पष्ट नोटिस किया गया है।

0 Comments